UP क्राइम: बाइक के लिए महिला की हत्या, जुर्म छुपाने के लिए शव फंदे पर लटकाया

मैनपुरी। दहेज रोकने के लिए कितने भी बड़े कानून क्यों ना हो, दहेज हत्याएं रुकने का नाम नहीं ले रही। उत्तरप्रदेश के मैनपुरी में एक नव विवाहिता दहेज़ लोभियों के भेट चढ़ गई। मृतका को दहेज में बाइक के लिए लगातार मारा-पीटा जाता था, और जब वे मायके से बाइक नहीं लाई तो उसकी हत्या कर दी। और अपना जुर्म छुपाने के लिए हत्या को आत्महत्या का रूप देकर फांसी पर लटका दिया। पुलिस ने मृतका के मायके वालों की तहरीर पर ससुराल वालों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार, एटा की रहने वाली रेवती का विवाह मैनपुरी के थाना बिछबा क्षेत्र के नगला पीपल के रहने वाले सत्यदेव यादव के साथ 2 वर्ष पूर्व किया था। शादी के बाद से ही पति और ससुराल वाले महिला को दहेज में बाइक के लिए प्रताड़ित कर रहे थे। उसने ये बात कई बार मायके वालों को भी बताई। जब महिला बाइक की मांग पूरी नहीं कर सकी तो ससुराल वालों ने उसकी हत्या कर दी और उसके शव को फांसी के फंदे पर लटकाकर फरार हो गए।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। महिला के मायके वालों ने ससुराल पर दहेज प्रताड़ना और हत्या के आरोप लगाए हैं। मृतका के भाई संजीव ने बताया कि रेवती की शादी में हैसियत के मुताबिक सब दहेज दिया था। इसके बावजूद सत्यदेव व उसके परिजन मेरी बहन को आये दिन बाइक के लिए परेशान करते थे। जो मैं नहीं दे सका तो उन्होंने मेरी बहन रेवती की हत्या कर शव फांसी पर लटका दिया।

Related posts