हनी ट्रैप पर बोले कृषि मंत्री, जांच में और भाजपा नेताओं के नाम सामने आएंगे

भोपाल। हनी ट्रैप मामले में एक और भाजपा नेता का नाम सामने आने पर प्रदेश की सियासत गर्मा गई है। कांग्रेस को भाजपा को घेरने का एक और मौका मिल गया। इसी मुद्दे को लेकर मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री सचिन यादव ने कहा कि भाजपा के शासनकाल में भ्रष्ट आचरण रहा है, नैतिक मूल्यों में गिरावत हुई है। हनी ट्रेप जैसे मामले भाजपा के शासनकाल में ही पैदा हुए थे और समय समय पर उसमें लिप्त लोगों के सामने आ रहे हैं, जो या तो भाजपा के नेता हैं या उनसे जुड़े लोग हैं। जैसे—जैसे जांच आगे बढ़ेगी और नाम सामने आते रहेंगे।

वहीं उन्होंने किसान आत्महत्या पर कहा कि, हमने जिला अधिकारियों से जांच करवाई है, लेकिन कहीं ऐसी बात सामने नहीं आई की किसान ने कर्ज के चलते आत्महता की हो, हमारी सरकार किसानों की है अगर किसान आत्महत्या करता है तो हमारे लिए चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि भाजपा के राज में मध्यप्रदेश के माथे पर कलंक लगा था, किसान आत्महत्या में मध्यप्रदेश नंबर एक पर था, लेकिन अब उसमें गिरावट आई है। उन्होंने भाजपा सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कृषि को लेकर पिछली सरकार के आंकड़े वास्तविकता से दूर थे, हमारी सरकार किसानों को लेकर धरातल पर काम कर रही है। किसान ऋण माफी को लेकर दूसरे चरण की प्रक्रिया जल्द शुरू होगी। सचिन यादव ने कहा कि अतिवर्षा में प्रभावित किसानों को राहत देने के लिए बीमा कंपनियों के साथ बैठक की, जल्दी ही किसानों को बीमे की राशि मिलेगी।

उन्होंने आगे कहा कि अमानक खाद बीज के लिए पिछली बीजेपी सरकार जिम्मेदार है। शुद्धि का अभियान 15 नबम्बर से शुरू हुआ है, जिसके तहत कई बड़ी खाद निर्माता कम्पनियों पर कार्यवाही की है, तीन दिन में 3 एफआईआर दर्ज करवाई है, 374 नमूने लिए हैं, दवा विक्रेताओं के यहाँ भी नमूने लिए जा रहे हैं, जो विक्रेता ईमानदारी से काम कर रहे हैं, वो इस अभियान को समर्थन दे रहे हैं। किसी भी दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा, आवश्यकता होने पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही होगी।

Related posts