साध्वी ने गोडसे को ‘देशभक्त’ बताकर भाजपा की कराई किरकिरी

नई दिल्ली। भोपाल से भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहती हैं। एक बार फिर बेतुका बयान देकर उन्होंने भाजपा की किरकिरी करवा दी है। साध्वी का यह बयान विपक्ष सहित खुद उनकी पार्टी को रास नहीं आया। जिसके चलते चारों और उनकी आलोचना हो रही है। दरअसल प्रज्ञा ठाकुर ने एक बार​ फिर महात्मा गांधी के हत्यारे को ‘देशभक्त’ बता दिया है। उन्होंने लोकसभा में बुधवार को नाथूराम गोडसे को ‘देशभक्त’ करार दिया है। उनके इस बयान का कांग्रेस ने कड़ा विरोध किया है।

दरअसल द्रमुक के ए.राजा ने सदन में गोडसे को लेकर एक बयान दिया, गोडसे का नाम सुनते ही साध्वी से रहा नहीं गया, और उन्होंने बीच में टोकते हुए कहा कि आप एक ‘देशभक्त’ का उदाहरण नहीं दे सकते। इस पर राजा ने कहा- गोडसे ने खुद स्वीकार किया था कि वह 32 साल से गांधीजी से सहमत नहीं था। इसके बाद ही उनकी हत्या की साजिश रची थी। हालांकि, साध्वी प्रज्ञा ने सफाई देते हुए कहा कि उन्होंने ऊधम सिंह का जिक्र करने पर टोका था न कि गोडसे के जिक्र पर।

बता दें कि लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था। जिस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि वे साध्वी को कभी दिल से माफ नहीं करेंगे। हाल ही में प्रज्ञा ठाकुर को रक्षा मंत्रालय का सदस्य भी बनाया गया था। जिसका कांग्रेस ने विरोध भी किया था, प्रज्ञा ठाकुर 2008 मालेगांव बम ब्लास्ट की आरोपी हैं।

Related posts