मासूम और रबर स्टाम्प हैं गृह मंत्री…उन्हें नहीं पता होगा प्रदेश में कितने एसपी और आईजी हैं: विश्वास सारंग

भोपाल। मध्यप्रदेश में डीजीपी के पत्र को लेकर सियासत गर्मा गई है। भाजपा विधायक विश्वास सारंग ने कमलनाथ सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि मध्यप्रदेश की कानून व्यवस्था बहुत खराब है और डीजीपी का पत्र ये साबित भी कर रहा है। सरेराह लोगो को मारा जा रहा है छोटी छोटी बच्चियों के साथ रेप हो रहा है, अपहरण हो रहे हैं, और यदि फरियादी थाने जाता है तो उसके साथ अनर्गल व्यवहार होता है। और यह सब डीजीपी के एडवायजरी के लेटर से स्पष्ट भी होता है। अगर डीजीपी ने ऐसा पत्र लिखा है तो कुछ न कुछ ऐसा है जो गलत है, मुख्यमंत्री को सामने आकर इसका जबाब देना चाहिए।

उन्होंने आगे कहा कि यदि मप्र में सब कुछ ठीक चल रहा है तो डीजेपी को एडवायजरी के लेटर की क्या जरूरत पड़ी थी। इसका मतलब है कि मप्र की हालत खराब है, थानों की हालत खराब है। जब आईजी से लेकर थानेदार की पोस्टिंग पैसे लेकर होगी तो ऐसे ही अराजकता के माहौल बनेंगे। मेरी मांग है कि डीजेपी बिना आदेश के ऐसा कोई लेटर नहीं लिखेंगे। यदि उन्होंने लेटर लिखा तो सीएम गृहमंत्री को सामने आकर इसका स्पीटीकरण देना चाहिए। इसका जिम्मेदार कौन है यह बताना चाहिए।

वहीं उन्होंने गृहमंत्री बाला बच्चन पर हमला बोलते हुए कहा कि उनहें कुछ मालूम नहीं है…सीएम हाउस से गृहमंत्रालय चल रहा है। गृहमंत्री तो मासूम हैं…रबर स्टाम्प हैं… मध्यप्रदेश में कितने एसपी हैं और मध्यप्रदेश जोन में कौन कौन आईजी पदस्थ है यह भी उनको नहीं पता होगा।

Related posts