मप्र: PCC चीफ पर थम नही रही कांग्रेस की गुटबाज़ी, अजय सिंह ने लगा दिए अब मीडिया पर लांछन

भोपाल (मध्यप्रदेश): कांग्रेस में प्रदेश अध्यक्ष पद को लेकर मचे घमासान पर मंत्रियों और कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के अलग बयान सामने आ रहे हैं, इसी कड़ी में पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल भैया का भी बयान सामने आया है। अजय सिंह राहुल भैया ने कहा कि टीवी और प्रिंट मीडिया पीसीसी पद के लिए रोज नया नाम लेकर सामने आते हैं, कभी सिंधिया तो कभी भूरिया तो कभी मेरा नाम सामने लाते हैं। मेरी नजर में डॉ गोविंद सिंह पीसीसी चीफ के लिए सबसे योग्य व्यक्ति हैं। अजय सिंंह राहुल भैया के बयान पर मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने तत्काल कहा यह राहुल भैया का हंसी मजाक में दिया गया बयान हैं लेकिन मंत्री गोविंद सिंह की जुबान पर पीसीसी चीफ ना बनाये जाने की पीड़ा साफ झलक उठी बड़ी लाचारी से उन्होंने कहा मुझे कौन बनायेगा पीसीसी चीफ। इस बीच दिग्विजय सिंह गुट के ही वाणिज्यकर मंत्री ब्रजेंद्र सिंह का भी बयान भी आया उन्होंने कहा कि पीसीसी चीफ को लेकर कोई घमासान नहीं हैं। उनसे जब योग्य पीसीसी चीफ के लिये योग्य व्यक्ति के बारे में जानने की कोशिश की गई तो वे सिंधिया को पीसीसी चीफ पद के लिए योग्य तो मानते दिखे पर वे यहां यह कहने से भी नहीं चूके कि सिंधिया के समक्ष और भी कई चेहरे पीसीसी पद के योग्य हैं। माना जाए तो पार्टी चीफ का अंतिम निर्णय तो आलाकमान दिल्ली से ही करता है लेकिन जो जंग अभी मध्यप्रदेश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं नेताओं के बीच छिड़ गई है उसे रोक पाना नामुमकिन सा लगता है। इसमें कोई शक नहीं है कि कांग्रेस के बहुत सारे गुट हैं और पार्टी एक तरफ होकर पूर्ण बहुमत से कभी काम नहीं कर पाती है लेकिन शायद गुटबाजी कांग्रेस सरकार को मध्यप्रदेश में भारी पड़ सकती है क्योंकि बीजेपी ने अभी तक हार नहीं मानी है।

Related posts