मटन नहीं बनाने पर पत्नी की हत्या करने वाले पति को उम्रकैद

बड़वानी। मटन नहीं बनाने और चरित्र शंका के चलते अपनी पत्नी की हत्या करने वाले आरोपित पति को बड़वानी की एक अदालत ने आजीवन कारावास की सजा से दंडित किया है। इस सजा पर फैसला जिला एवं सत्र न्यायाधीश रामेश्वर कोठे ने एक साल तीन महिने के बाद सुनाया।।

बता दें कि 11 जुलाई 2018 को नवलपुरा, राजपुर निवासी चिंटू (48) ने अपनी पत्नी कलाबाई की हत्या सिर्फ इस बात पर कर दी कि उसने बाजार से लाया हुआ मटन नहीं बनाया था। वह अपनी पत्नी पर चरित्र शंका भी करता था। चिंटू ने अपने मकान के अंदर वाले कमरे का दरवाजा बंद कर जान से मारने की नीयत से लोहे की सब्बल से पत्नी के पेट व अन्य जगह पर वार किए। गले पर लात रखने से वह गंभीर रूप से घायल हो गई। उसे शासकीय अस्पताल राजपुर जाया गया, जहां डॉक्टर ने कलाबाई को मृत घोषित कर दिया था।

Related posts