पेड़ों पर चल रही कुल्‍हाड़ी की चोट को रोकने आगे आए मम्मा

भोपाल। मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल में विधायकों के लिए रेस्ट हाउस बनाने की खातिर पेड़ों को काटने का काम चल रहा है। जहां एक ओर पेड़ों की संख्‍या अच्‍छी नहीं है, वहीं दूसरी ओर शहरों के विकास के लिए लगातार पेड़ काटे जा रहे हैं। पेड़ों पर चल रही इन अंधाधुन्‍ध कुल्‍हाड़ी की चोट को रोकने के लिए पूर्व विधायक सुरेंद्र नाथ सरकार के विरोध में आ गए हैं। जी हां राजधानी भोपाल में बढ़ते प्रदूषण से मुक्त और पर्यावरण को बचाने के लिए भाजपा के पूर्व विधायक सुरेंद्र नाम सिंह ने पुरानी जेल के बाहर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया।

सुरेन्द्र नाथ सिंह ने कहा कि स्मार्ट सिटी, गैमन इंडिया के नाम पर हजारों पेड़ काट दिए। अब सरकार विधानसभा विश्राम के पास घाना जंगल काट कर विधायकों के लिए मकान बनाने की तैयारी कर रही है। जिससे शहर का संतुलन बिगड़ रहा है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण विभाग की रिपोर्ट में यह पता चला है कि भोपाल भी प्रदूषण स्तर पर पहुच चुका है। अगर पेड़ों को नही बचाएंगे तो भोपाल भी दिल्ली जैसा हो जाएगा। सुरेंद्र नाथ ने लोगों से अपील की है कि पेड़ नहीं काटने का संकल्प लें।

Related posts