थाने के पीछे मेले की आड़ में खुले जुएं के अड्डे, कैसिनो, चरस-गांजे की फूंक के साथ!!!

जनसम्पर्कLife

गोवा, मुंबई व समंदर की शीप के सीने में चलते कैसिनो पर तो नकेल ठुक ही चुकी है लेकिन भोपाल नगरी में धारा 144 के फ़रमान के तामील होने के बावज़ूद भी थाना पुलिस की पनाह में ये खेल कुछ अलग ही अंदाज़ में परवान चढ़ रहा है!!!

Anam Ibrahim
7771851163

भोपालः अगर आप जुआरी हैं, सटोरी है और जुएं का फड़ तलाश रहे हैं तो यहां-वहां मत होइए परेशान आइए थाना छोला इलाक़े में जहां थाने से महज़ सो क़दम की दूरी पर मेले की आड़ में खुल्लमखुल्ला संचालित हो रहा है जुआ! दरअसल मेले की दुकानों के बीच जुआनुमा अड्डे संचालित हो रहे हैं एक तऱफ सट्टेबाजी कि तरह नम्बर के आधार पर महँगी समाग्री के इनाम की दुकान है तो वहीं हूबहू कैसिनो की तरह घुमते नम्बर पर जुआरी मिज़ाज़ नुमाइंदों का हुज़ूम गांधीछाप 50-100-हज़ार के नोटों का दाव लगा रहे हैं। बता दें कि मेले की आड़ में जुआरियों की बाढ़ कैसिनो पर आते ही पतलून के बटवे में पड़े तमाम नोटों को हार कर डुबो डालती है, यहीं वजह है कि मालामाल होने की चाह रखने वाले लालची जुआरियों का हुज़ूम यहां मेले में उमड़कर लाखो रुपय नम्बरों पर लगा नम्बरियों के हवाले करते जा रहे हैं। खैर ऐसा नही है कि मेले के कैसिनो की भनक थाना पुलिस को नही है बल्कि उनकी आँखों के सामने ही जुए के फड़ फड़फड़ा रहे हैं। साथ ही कैसिनो के बाज़ू दो चार दर्ज़न नशेले दिन भर चरस गांजे कि फूक मार धुंआ धुआं करते नज़र आ रहे है, ऐसे में भला करे तो करे क्या बोले तो बोले क्या??!!
जल्द पढ़िये बखिये उधेड़ती सनसनीखेज़ ख़बर प्रदेश की हक़ीकत में

चल रहा

जुएं के अड्डे,सट्टे की तर्ज़ पर

Related posts